Spread the love


किंशासा
हर किसी की ख्वाहिश एक परफेक्ट बॉडी शेप पाने की होती है। कुछ लोग इसके लिए जिम जाते हैं और मसालेदार खाने से परहेज करते हैं तो कुछ फास्टफूड को छोड़कर योगा और घरेलू व्यायाम को अपनाते हैं। लेकिन जब परफेक्ट बॉडी शेप पाने की चाहत सनक में बदल जाए तो चीजें थोड़ी गंभीर हो जाती हैं। अफ्रीका में ऐसे मामले देखने को मिले हैं जहां लोग अपने प्राइवेट पार्ट्स में चिकन स्टॉक के इंजेक्शन लगा रहे हैं। परफेक्ट फिगर की चाहत में ये महिलाएं अपनी जान को खतरे में डाल रही हैं। यह सुनने में थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन यह सच है।

खूबसूरती की इस खतरनाक चाहत को Vice ने 2018 में कवर किया था। अब एक बार फिर यह रिपोर्ट सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है। वीडियों में कांगे के निवासियों, खासकर महिलाओं को इस लत का शिकार दिखाया गया है। ये महिलाएं चिकन सूप को इंजेक्शन में भरकर अपने शरीर में लगा रही हैं ताकि ये आकर्षक बॉडी शेप हासिल कर सकें। त्वचा के माध्यम से शरीर में प्रवेश करने वाला चिकन सूप हिप्स में आकर रुक जाता है जिससे उनका आकार बड़ा हो जाता है।

बेअसर रही डॉक्टरों की चेतावनी
महिलाएं सिर्फ चिकन सूप ही नहीं बल्कि मैगी, नमक, चीनी, काली मिर्च, तेल और तमाम खाने वाली चीजों को अपने शरीर में इंजेक्ट कर रही हैं। इन चीजों के स्टॉक क्यूब्स को पहले तरल पदार्थ में बदला जाता है फिर इंजेक्शन के माध्यम से शरीर में प्रवेश करवाया जाता है। डॉक्टर इस तरह के प्रयोग को लेकर कई बार चेतावनी दे चुके हैं और महिलाओं को इसके नुकसान के बारे में बता चुके हैं लेकिन इसका उन पर कोई असर देखने को नहीं मिला।
सिख, अफगानी, चीनी.. अमीरों को साधने में जुटा पाकिस्तान, 75 लाख रुपए में ‘बेच’ रहा नागरिकता
नुकसान के बारे में जानकारी होने के बाद भी…
वीडियो में एक महिला बताती है कि उसे इससे होने वाले नुकसान के बारे में अच्छी तरह पता है लेकिन फिर भी लगातार इंजेक्शन लेती है क्योंकि इससे उसका शरीर आकर्षक दिखता है। खास बात यह कि ये इंजेक्शन बेहद आसानी से मिल जाता है और प्लास्टिक या दूसरी तरह की सर्जरी से काफी सस्ता है। डॉक्टर इस ट्रेंड के लिए म्यूजिक एल्बम और फिल्मों को जिम्मेदार ठहराते हैं जिन्होंने इस धारणा को जन्म दिया है कि एक विशेष तरह के बॉडीशेप को ही खूबसूरत माना जाता है।



Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.